नन्ही चिड़िया – Little Bird Inspirational Child Story

Little Bird Inspirational Child Story: बहुत समय पुरानी बात है। एक बहुत घना जंगल था। एक दिन उस जंगल मे किसी कारण से आग लग गयी। सभी जानवर इतनी बड़ी आग को देखकर डरने लगे कि अब क्या होगा? थोड़ी ही देर के बाद जानवरों मे भगदड़ सी मच गयी। सभी जानवर इधर-उधर भाग रहे थे। सभी जंगल अपनी जान बचाने मे लगे हुए थे। उस जंगल मे एक छोटी चिड़िया रहती थी। जब उसने देखा कि जंगल मे आग लगी हुई है तो उसने जानवरो की मदत करने की सोची।

नन्ही चिड़िया – Little Bird Inspirational Child Story

Little Bird Inspirational Child Story, nanhi chidiya ki kahani, short stories in hindi

ये सब सोचने के बाद वह छोटी चिड़िया जल्दी से नदी मे गयी और चोंच मे पानी भरकर लायी और आग मे डालने लगी। वह बार-बार नदी मे जाती और पानी लाकर आग मे डालती। पास से ही एक उल्लू गुजर रहा था। उसने उस चिड़िया को देखा और बोला कि यह चिड़िया कितनी पागल है जो इतनी भीषण आग को बुझाने मे लगी हुई है। यही सोचने के बाद उल्लू उस चिड़िया के पास गया और बोला कि तुम पागल हो इस तरह से आग नहीं बुझाई जा सकती है।

चिड़िया ने बहुत ही प्यारा सा जवाब दिया “मुझे पता है कि मेरे इस प्रयास से कुछ नही होगा, लेकिन मुझे अपनी तरफ से मेरा पूरा योगदान देना है। आग कितनी भी भयंकर हो मै मेरा प्रयास नही छोडूंगी।” उल्लू यह सुनकर बहुत ही प्रभावित हुआ।

तो दोस्तों यही बात हमारे जीवन पर भी लागू होती है। जब भी कोई परेशानी आती है तो इंसान घबराकर हार मान लेता है, लेकिन हमें बिना डरे प्रयास करते रहना चाहिए। यही इस कहानी की शिक्षा है। अगर आपको “नन्ही चिड़िया – Little Bird Inspirational Child Story” अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *